अमेरिका के एक घर में गिरा 5 अरब साल पुराना Meteorite! छत में छेद कर बेडरूम तक पहुंचा -
Meteorite

अमेरिका के एक घर में गिरा 5 अरब साल पुराना Meteorite! छत में छेद कर बेडरूम तक पहुंचा

अमेरिका के न्‍यू जर्सी (New Jersey) के होपवेल में एक घर में बीते दिनों आसमानी धातु गिर गई। चकोतरे (grapefruit) के साइज की धातु घर की छत पर गिरी और छेद करती हुई बेडरूम तक जा पहुंची। एक रिपोर्ट के अनुसार, लोकल पुलिस का मानना है कि वह चीज उल्‍कापिंड (meteorite) हो सकती है। पिछले वीकेंड इलाके में एटा एक्वारिड्स उल्का बौछार (Eta Aquarids meteor shower) अपने पीक पर थी। माना जा रहा है कि उसके कारण एक उल्‍कापिंड पृथ्‍वी तक पहुंचने में कामयाब रहा।

जानिए क्या कहना है बिजनेस इनसाइडर का

बिजनेस इनसाइडर ने बताया है कि स्थानीय समय के अनुसार दोपहर करीब 1:15 बजे वह संभावित उल्‍कापिंड (Meteorite) घर की छत पर गिरा। तब वहां कोई नहीं था। पुलिस का मानना है कि वह उल्‍कापिंड ही है। फर्श से टकराने के कारण वह क्षतिग्रस्‍त हो गया है। स्‍थानीय फायर डिपार्टमेंट ने कन्‍फर्म किया कि वह चीज खतरनाक नहीं थी।

पुलिस ने न्‍यू जर्सी के एक वैज्ञानिक से कॉन्‍टैक्‍ट किया, ताकि संभावित Meteorite की जांच की जा सके। होपवेल टाउनशिप पुलिस विभाग के प्रमुख जेम्स रोसो ने बिजनेस इनसाइडर को बताया कि उन्‍होंने अपने करियर में कई दिलचस्‍प घटनाएं देखी हैं, लेकिन कभी नहीं सोचा था कि एक दिन उल्‍कापिंड भी देखने को मिलेगा।

चट्टानी टुकड़े का वजन करीब 1.8 किलोग्राम बताया जा रहा है

चट्टानी टुकड़े का वजन करीब 1.8 किलोग्राम बताया जा रहा है। जब भी कोई Meteorite पृथ्‍वी के वायुमंडल में प्रवेश करता है, तो घर्षण और ज्‍यादा तापमान की वजह से जल उठता है। कई बार उल्‍काएं पूरी तरह से नहीं जल पातीं और इस तरह के टुकड़े पृथ्‍वी पर पहुंच जाते हैं। इन्‍हें उल्‍कापिंड कहा जाता है। उल्‍कापिंडों (Meteorite) का बिल्डिंग या लोगों से टकराना एक दुर्लभ घटना होती है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, जो उल्‍कापिंड घर पर गिरा, वह 4 से 5 अरब साल पुराना हो सकता है। गौरतलब है कि साल के कई महीनों में उल्‍का‍ बौछारें पृथ्‍वी से देखने को मिलती हैं। ज्‍यादातर उल्‍काएं पृथ्‍वी के वायुमंडल में पूरी तरह से जल जाती हैं। जो उल्‍काएं पूरी नहीं जल पातीं, उनका बचा हुआ भाग पृथ्‍वी पर गिरता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *