solar panel

घर की छत पर लगा दें ये solar panel, 25 साल तक नहीं आएगा बिजली का बिल

बढ़ती महंगाई ने लोगों के घरों का बजट बिगाड़ दिया है. हर चीज के दाम आसमान छू रहे हैं, जिससे लोगों की बचत पर असर पड़ रहा है. इसलिए आज हम आपको एक ऐसा तरीका बताएंगे जो आपके खर्च को कम करने में मदद करेगा. अगर आप बिजली के बिल (Electricity Bill) से परेशान हो चुके हैं तो घर की छत पर सोलर पैनल (Solar Panel) लगवा सकते हैं. इसके बाद एसी, कूलर, पंखा, टीवी आदि चलाने पर 25 सालों तक बिल देने से छुटकारा मिल सकता है। हालांकि, इसके लिए आपको एक बार बड़ा खर्च करना होगा।

घर की छत पर solar panel लगवाने के लिए सरकार सब्सिडी दे रही है. इसके लिए न्यू और रिन्यूएबल एनर्जी मिनिस्ट्री ने रूफटॉप योजना की शुरुआत की है. इस योजना का लाभ लेने के लिए पहले चेक कर लें कि आपको कितनी बिजली की जरूरत है. अगर आप 2-3 पंखे, एक फ्रिज, 6-8 LED लाइट, एक पानी की मोटर और टेलीविजन जैसी चीजें चलाते हैं तो रोजाना 6 से 8 यूनिट की खपत होगी।इतनी बिजली के लिए आपको 2 किलोवॉट के सोलर पैनल की जरूरत पड़ेगी।

कितनी मिलेगी सब्सिडी

रूफटॉप के नेशनल पोर्टल के तहत 3kW की क्षमता तक के Solar Panel के लिए प्रति किलोवॉट 14,588 रुपए की सब्सिडी मिलती है. ग्राहक अपने इलाके में किसी भी रजिस्टर्ड डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी से रूपटॉप Solar Panel लगवा सकते हैं. 3 किलोवॉट तक का सोलर पैनल लगवाने पर 40 फीसदी तक की सब्सिडी मिलती है. वहीं, 10 किलोवॉट की क्षमता के लिए 20 फीसदी तक की सब्सिडी मिलेगी।

Solar Rooftop के लिए अप्लाई करने का तरीका

सोलर रूफटॉप योजना का आवदेन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

स्टेप 1

Sandes ऐप डाउनलोड करें और “सोलर रूफ टॉप डॉट जीओवी डॉट इन” पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करें.
अपना राज्य चुनें.
इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी (DISCOM) चुनें.
इलेक्ट्रिसिटी कंज्यूमर नंबर दर्ज करें.
मोबाइल नंबर दर्ज करें.
ईमेल आईडी दर्ज करें.

अब पोर्टल के निर्देशों के तहत स्टेप्स फॉलो करें.

स्टेप 2

कंज्यूमर नंबर और मोबाइल नंबर के साथ लॉगइन करें.
फॉर्म के तहत रूफटॉप सोलर के लिए अप्लाई करें।

स्टेप 3

DISCOM की मंजूरी का इंतजार करें. मंजूरी मिलने के बाद DISCOM में रजिस्टर्ड किसी भी वेंडर से सोलर प्लांट लगवा सकते हैं।

स्टेप 4

Solar Panel इंस्टॉल करने के बाद प्लांट की जानकारी सबमिट करें और नेट मीटर के लिए अप्लाई करें।

स्टेप 5

नेट मीटर लगने के बाद DISCOM के द्वारा मुआयना किया जाएगा. इसके बाद वो पोर्टल से कमीशनिंग सर्टिफिकेट जारी करेगी।

स्टेप 6

कमीशनिंग रिपोर्ट मिलने के बाद बैंक अकाउंट की जानकारी और एक कैंसिल चेक पोर्टल पर सबमिट करें. 30 दिनों के अंदर आपके बैंक अकाउंट में सब्सिडी का पैसा आ जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *