Manipur Violence: मणिपुर में एक बार फिर हिंसा, चार लोग घायल, ITLF ने किया एक मौत का दावा -
Manipur Violence

Manipur Violence: मणिपुर में एक बार फिर हिंसा, चार लोग घायल, ITLF ने किया एक मौत का दावा

मणिपुर में हिंसा (Manipur Violence) थमने का नाम नहीं ले रही है. राज्य के चुराचांदपुर में गुरुवार (27 जुलाई) को एक बार फिर कुकी और मैतेई समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए, इस दौरान चार लोग घायल हो गए।हालांकि, इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम (आईटीएलएफ) ने दावा किया है कि गोलीबारी में एक 30 साल के शख्स की मौत भी हो गई. वहीं बताया जा रहा है कि कुकी उपद्रवियों ने मणिपुर में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर हमला बोला। इस दौरान सुरक्षाबलों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार (27 जुलाई) को कांगवई, क्वाक्टा, फुगाकचाओ इखाई और तेराखोंगशांगबी इलाकों के अलग-अलग गांवों में उपद्रवियों के घुसने के बाद फायरिंग शुरू की गई।अधिकारी ने बताया कि पुलिस और सुरक्षा बल मौके पर पहुंच गए।ग्रामीणों को रेस्कयू कर लिया गया है।फायरिंग अभी भी जारी है, ताजा फायरिंग की घटनाएं तब सामने आईं जब एक दिन पहले यानी बुधवार को उपद्रवियों के एक समूह ने घरों में तोड़फोड़ की थी और आग लगा दी, जिसके बाद सुरक्षाबलों और उपद्रवियों के बीच गोलीबारी शुरू हो गई।

मणिपुर पुलिस ने घायलों के बारे में दी जानकारी

मणिपुर पुलिस ने घायलों के बारे में जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि गुरुवार (27 जुलाई) देर रात तक बदमाशों ने सीमांत इलाकों पर फायरिंग की. चारों घायल लोगों को इंफाल के राज मेडिसिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।वहीं दूसरी ओर मणिपुर में महिलाओं के साथ हुई अभद्रता पर गृह मंत्रालय एक्शन में है. राज्य में हालात पर काबू पाने के लिए 35 हजार अतिरिक्त फोर्स तैनात की गई है।

इसके अलावा मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाए जाने के मामले पर शुक्रवार (28 जुलाई) को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है. मणिपुर वीडियो मामले पर सुनवाई से एक दिन पहले केंद्र सरकार ने हलफनामा दाखिल कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *