Rohit Sharma ने चल दिया मास्टर स्ट्रोक, हार्दिक पंड्या पर कहीं भारी न पड़ जाए धोनी का ये 'युवराज'! -
Rohit Sharma

Rohit Sharma ने चल दिया मास्टर स्ट्रोक, हार्दिक पंड्या पर कहीं भारी न पड़ जाए धोनी का ये ‘युवराज’!

भारतीय टीम ने अफगानिस्तान को मोहाली में हराते हुए 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली। ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और शुभमन गिल के जल्दी आउट होने के बाद ऐसा लग रहा था कि अफगानिस्तान टीम की पकड़ मजबूत हो सकती है, लेकिन एक छोर पर शिवम दुबे ने विध्वंसक बैटिंग करते हुए भारत को जीत दिला दी। एक ओर जहां अफगानिस्तान के खिलाफ पहले टी20 मैच में 40 गेंद में 60 रन बनाने वाले शिवम दुबे ने अपने तेवर और शैली में बदलाव का श्रेय महेंद्र सिंह धोनी को दिया। वहीं दूसरी ओर, सोशल मीडिया पर एक अगल ही आग लगी पड़ी है। फैंस का मानना है कि युवराज सिंह की तरह बैटिंग करने वाले शिवम लिमिटेड ओवरों में हार्दिक पंड्या की तरह पेस बॉलिंग ऑलराउंडर हैं।

युवराज वाली हिटिंग पावर तो गेंद से भी कातिल रहे शिवम दुबे

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएल में खेलने वाले शिवम ने न केवल नाबाद 60 रनों की मैच विनिंग पारी खेली, जबकि एक विकेट भी झटका। उन्होंने 2 ओवर किए और सिर्फ 9 रन खर्च किए। उनका गेंद पर गजब का कंट्रोल था, जबकि बैटिंग के दौरान क्लीन हीटिंग पावर भी नजर आई। युवराज के अंदाज में उन्होंने मिडविकेट पर छक्का उड़ाया तो एक स्ट्रेट बाउंड्री के बाहर भी करिश्माई शॉट खेला। ओवरऑल देखा जाए तो यह टी-20 वर्ल्ड कप और हार्दिक पंड्या की फिटनेस को देखते हुए पॉजिटिव साइन है।

शिवम दुबे टीम इंडिया में हार्दिक पंड्या के साथ और रिप्लसेमेंट, दोनों ही मामले में फिट

यह भी माना जा रहा है कि Rohit Sharma ने जिस अंदाज में उनसे बॉलिंग कराई वह हार्दिक पंड्या का बेहतरीन रिप्लेसमेंट हो सकते हैं। साथ ही शिवम के साथ एक पॉजिटिव बात यह है कि वह लेफ्ट हैंड बल्लेबाज हैं। टीम इंडिया में एक लेफ्टी होना हमेशा से अच्छा रहता है। एक समय युवराज सिंह और सौरव गांगुली के रूप में दो खब्बू बल्लेबाज रहते थे, लेकिन लंबे समय से टीम इंडिया के पास कोई रेगुलर खब्बू बल्लेबाज नहीं रहा है। ऋषभ पंत का चोटिल होना, जबकि रविंद्र जडेजा और अक्षर पटेल के साथ भी अक्सर फिटनेस की समस्या ने टीम इंडिया के इस प्लान को हमेशा खराब किया है, लेकिन अगर शिवम दुबे टीम में होते हैं तो यह शिखर धवन और रोहित शर्मा, रोहित शर्मा-यशस्वी जायसवाल की तरह मिडिल ऑर्डर भी वैरिएशन देखने को मिलेगा।

धोनी से जो सीखा उसी तरह फिनिश करना चाहता था: शिवम दुबे

अगर शिवम अफगानिस्तान के खिलाफ बचे दोनों मैचों और आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो टी-20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में उन्हें शामिल किया जा सकता है। यह भी संभव है कि हार्दिक पंड्या के होने के बावजूद उन्हें प्लेइंग-11 में शामिल किया जाए। खैर, दुबे के आक्रामक अर्धशतक से भारत ने 6 विकेट से जीत दर्ज की। इस पारी से वह प्लेयर ऑफ द मैच भी बने। दुबे ने कहा, ‘जब मैं बल्लेबाजी के लिए आया तो उस पर अमल करना चाहता था जो मैच ‘फिनिश’ करने के बारे में मैंने एमएस धोनी से सीखा है। उन्होंने मुझे अलग अलग हालात में खेलना सिखाया और दो तीन टिप्स दिए।’

उन्होंने कहा, ‘अगर वह मेरी बल्लेबाजी की समीक्षा करते रहेंगे तो मैं अच्छा खेलता रहूंगा । उनकी वजह से मेरा आत्मविश्वास बढ़ा।’ दुबे ने इससे पहले पिछले साल हांगझोउ एशियाई खेलों में भारत के लिए खेला था। वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू टी20 श्रृंखला में भारतीय टीम का हिस्सा थे लेकिन खेलने का मौका नहीं मिला। दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए उनका चयन नहीं हुआ था।

रोहित की कप्तानी की तारीफ, कहा- धोनी जैसे हैं हिटमैन

दुबे को Rohit Sharma की कप्तानी में धोनी की झलक मिलती है। उन्होंने कहा, ‘दोनों मुझे ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करने देते हैं। अभी बहुत मेहनत करनी है और मुझे पता है कि वह मेरे साथ हैं और चाहते हैं कि मैं अच्छा खेलूंगा। इससे मेरे भीतर सकारात्मकता आती है।’ दुबे ने अफगानिस्तान के कप्तान इब्राहिम जदरान का विकेट भी लिया। इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘मैंने आफ सीजन में अपनी फिटनेस पर काफी काम किया है। इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में काफी गेंदबाजी की है जिससे प्रदर्शन में सुधार आया है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *