ईरान का हम सम्मान करते हैं लेकिन.... मिसाइलों की बारिश के बाद पाकिस्तान ने जारी किया बयान, बताई हमले की वजह -
Pakistan Confirm Strike on Iran

ईरान का हम सम्मान करते हैं लेकिन…. मिसाइलों की बारिश के बाद पाकिस्तान ने जारी किया बयान, बताई हमले की वजह

Pakistan Confirm Strike on Iran: पाकिस्तान ने कहा है कि उसने ईरान की जमीन पर हमला करते हुए आतंकी संगठने के ठिकानों को निशाना बनाया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए इसकी जानकारी दी है। पाक विदेश मंत्रालय ने बताया है कि पाकिस्तान ने ऑपरेशन ‘मर्ग बर सरमाचर’ के तहत गुरुवार तड़के ईरान के सिस्तान बलूचिस्तान प्रांत में आतंकवादी ठिकानों पर लक्षित सैन्य हमले किए, जिसमें कई आतंकी मारे गए और उनके ठिकानों को तबाह कर दिया गया।

बयान में कहा गया है, पिछले कई सालों से ईरान के साथ बातचीत में पाकिस्तान ने लगातार ईरान के अंदर खुद को सरमाचर्स कहने वाले पाकिस्तानी मूल के आतंकवादियों को पनाह मिलने पर अपनी गंभीर चिंताओं को साझा किया है। पाकिस्तान ने इन आतंकवादियों की मौजूदगी और गतिविधियों के ठोस सबूतों के साथ कई डोजियर भी साझा किए। हमारी गंभीर चिंताओं पर कार्रवाई की कमी के कारण ये आतंकी निर्दोष पाकिस्तानियों का खून बहाते रहे। आज की कार्रवाई इनकी आतंकी गतिविधियों की विश्वसनीय खुफिया जानकारी के बाद की गई।

‘सुरक्षा से समझौता नहीं करेगा पाकिस्तान’

पाक विदेश मंत्रालय के स्टेटमेंट में आगे कहा गया है, यह कार्रवाई दिखाती है कि पाकिस्तान सभी खतरों के खिलाफ अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा की रक्षा करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। इस अत्यधिक जटिल ऑपरेशन को सफलता के साथ करना पाकिस्तान सशस्त्र बलों के हुनर को भी दिखाता है। पाकिस्तान अपने लोगों की सुरक्षा को बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाना जारी रखेगा। बयान में ये भी कहा गया है कि पाकिस्तान इस्लामी गणतंत्र ईरान की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का पूरा सम्मान करता है। आज की सैन्य कार्रवाई का एकमात्र उद्देश्य पाकिस्तान की अपनी सुरक्षा और राष्ट्रीय हित को आगे बढ़ाना था, जो उसके लिए सर्वोपरि है और इससे समझौता नहीं किया जा सकता।

 

पाकिस्तान ने कहा है कि वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के एक जिम्मेदार सदस्य के रूप में दूसरे देशों की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता सहित संयुक्त राष्ट्र चार्टर के सिद्धांतों और उद्देश्यों को कायम रखता है। इन सिद्धांतों के तहत अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत अपने वैध अधिकारों का प्रयोग करते हुए पाकिस्तान कभी भी किसी भी बहाने या परिस्थिति में अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को चुनौती नहीं देने देगा। बयान में कहा गया है कि ईरान एक भाईचारा वाला देश है और पाकिस्तान के लोग ईरानी लोगों के प्रति बहुत सम्मान और स्नेह रखते हैं। हमने आतंकवाद के खतरे सहित आम चुनौतियों का सामना करने में हमेशा बातचीत और सहयोग पर जोर दिया है और आगे भी संयुक्त समाधान खोजने का प्रयास जारी रखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *